google.com, pub-1670991415207292, DIRECT, f08c47fec0942fa0 लहुरी काशी में अपने रैली में प्रधानमंत्री मोदी ने भोजपुरी में किया सम्बोधन - Hindi Top News| हिंदी टॉप न्यूज़

Header Ads

लहुरी काशी में अपने रैली में प्रधानमंत्री मोदी ने भोजपुरी में किया सम्बोधन

गाजीपुर: लहुरी काशी में प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र माेदी ने अपने संबाेधन की शुरूआत भोजपुरी से करते हुए कहा‍ कि बुजुर्ग चाचा लोगन, माता-बहीन लोगन क गोड लागत तानी, आवे वाले खिचड़ी और अमावस के नहान क बधाई, ये धरती के शहीदन के नमन, गहमरी जी जो हमहन के सांसद रहन, पूरब के दर्द से संसद के रोआ देहले रहलन, उनका स्‍मृति के प्रमाण बा। संसद में आपन छाप छोड़े गौरीशंकर राय जी के भी नमन, दुश्‍मन के दात खट्टा करे वाले बीर अब्‍दुल हमीद साहब के भी नमन, महाराजा सुहेलदेव जी के इतिहास रऊवा लोगन जानत तानी, यहां आवे क सौभाग्‍य मिलुए, वीरता से भरल हमे उनका इतिहास मिलुए। पीएम मोदी ने कहा कि आपका ये चौकीदार, बहुत ईमानदारी से दिन-रात एक कर रहा है। आप अपना विश्वास और आशीर्वाद इसी तरह बनाए रखिए। क्योंकि चौकीदार की वजह से कुछ चोरों की रातों की नींद उड़ी हुई है। मुझ पर आपका विश्वास और आशीर्वाद ही एक दिन इन चोरों को सही जगह तक लेकर जाएगा। पीएम मोदी ने कहा कि केन्‍द्र में हमारे सहयोगी और मित्र मनाेज सिन्‍हा ने जानकारी दी कि अनेकों किसानों का आज हरा मिर्च और हरा मटर दुबई जाकर बिक रहा है और किसानों को इसकी अच्‍छी कीमत मिल रही है। हमारी सरकार ने सभी के विकास के लिए तमाम योजनाएं चलाई हैं। हर गरीब, पिछड़े को हम मुख्‍यधारा में लाकर मजबूती के साथ खड़ा करने में लगे हुए हैं। पीएम मोदी ने कहा कि कर्नाटक में लाखों किसानों को कर्ज माफी का वादा किया था, लेकिन सिर्फ 800 किसानों का ही कर्ज माफ हुआ। यह कैसा खेल, कैसा धोखा है।

इतना ही नहीं जब कैग की रिपोर्ट आई उसमें से 35 लाख रूपये उन लोगों को मिला जो न किसान थे, न कर्ज था और न कर्ज माफी के हकदार थे। छह लाख करोड़ रूपए का किसानों का कर्ज माफी का वादा किया था और दिया कितना सिर्फ और सिर्फ 60 हजार करोड़। जब सरकारें पारदर्शिता के साथ काम करती हैं, जब जनहित स्वहित से ऊपर रखा जाता है, संवेदनशीलता जब शासन का हिस्सा बनने लगती हैं, तब बड़े काम होते हैं। जब लक्ष्य व्यवस्था में स्थाई परिवर्तन होता है, तब बड़े काम होते हैं, तब दूर की सोच के साथ स्थाई और ईमानदार प्रयास किए जाते हैं। वोट बटोरने के लिए लुभावने उपायों का हश्र क्या होता है, वो मध्य प्रदेश और राजस्थान में आज दिख रहा है। सरकार बदलते ही वहां खाद और यूरिया के लिए लाइन लगने लगी हैं। पीएम मोदी ने आगे कहा कि आयुष्मान योजना के तहत 100 दिन के भीतर ही साढ़े छह लाख गरीब बहन-भाइयों का या तो इलाज हो चुका है या अस्पताल में इलाज चल रहा है। उत्तर प्रदेश के 14 हजार से ज्यादा बहनों-भाइयों को इसका लाभ मिला है। प्रधानमंत्री ने कहा कि जिस मेडिकल कालेज का शिलान्यास किया गया है, उससे इस क्षेत्र को आधुनिक चिकित्सा सुविधा तो मिलेगी ही, गाजीपुर में नए और मेधावी डॉक्टर भी तैयार होंगे। करीब 220 करोड़ की लागत से जब यह कालेज बनकर तैयार हो जाएगा तो, गाजीपुर का जिला अस्पताल 300 बेड का हो जाएगा। इस अस्पताल से गाजीपुर के साथ-साथ आसपास के जिलों को भी लाभ होगा। पीएम मोदी ने कहा कि आज गरीब से गरीब की भी सुनवाई होने का मार्ग खुला है। समाज के आखिरी पायदान पर खड़े व्यक्ति को गरिमापूर्ण जीवन देने का यह अभियान अभी शुरूआती दौर में है। पूर्वांचल में स्वास्थ्य सेवाओं में सुधार इसी दिशा में उठाया गया कदम है। अभी एक ठोस आधार बनाने में सरकार सफल हुई है। इस नींव पर मजबूत इमारत तैयार करने का काम अभी बाकी है। स्वास्थ्य की दृष्टि से देश में सबसे कम विकसित क्षेत्रों में से एक पूर्वांचल को मेडिकल हब बनाने की दिशा में निरंतर तेजी लाई जा रही है। महाराजा सुहेलदेव की स्मृति में बहराइच में स्मारक बनाने का फैसला करने के लिए मैं उत्तर प्रदेश सरकार को शुभकामनाएं देता हूं। देश के ऐसे हर वीर-वीरांगनाओं को, जिन्हें पहले की सरकारों ने पूरा मान नहीं दिया, उनको नमन करने का काम हमारी सरकार कर रही है। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार का दृढ़ निश्चय है कि जिन्होंने भी भारत की रक्षा, सामाजिक जीवन को ऊपर उठाने में योगदान दिया है, उनकी स्मृति को मिटने नहीं दिया जाएगा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि महाराजा सुहेलदेव देश के उन वीरों में रहे हैं, जिन्होंने मां भारती के सम्मान के लिए संघर्ष किया है। जब विदेशी आक्रांताओं ने भारत भूमि पर आंख उठाई तो महाराजा सुहेलदेव उन महावीरों में थे जिन्होंने उनका डटकर मुकाबला किया और उन्हें परास्त किया। उन्होंने कहा कि जनता ने 2014 में जो विश्वास दिखाया था वो आज सच होते दिख रहा है, हर सड़क हर चौराहे पर विकास कार्य दिख रहा है। 90 लाख लोगों को उज्जवला योजना के तहत नि:शुल्क रसोई गैस देने का काम किया है। कार्यक्रम को प्रदेश सरकार के मंत्री अनिल राजभर ने संबोधित करते हुए कहा कि महाराजा सुहेलदेव को जो सम्‍मान मोदी जी के नेतृत्‍व में सरकार ने दिया है, वे और उनका समाज इसके लिए सदैव आभारी रहेगा।

 वहीं महाराजा सुहेलदेव के नाम पर प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी, राज्‍यपाल रामनाईक, मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ, केन्‍द्रीय मंत्री मनोज सिन्‍हा, भाजपा प्रदेश अध्‍यक्ष डा. महेन्‍द्र नाथ पांडेय सहित मंच पर मौजूद वरिष्‍ठ नेताओं ने महाराजा सुहेलदेव के नाम पर स्‍मृति डाक टिकट जारी किया। तदोपरांत राजकीय मेडिकल कालेज का पीएम मोदी ने बटन दबाकर शिलान्‍यास किया। वहीं पीएम मोदी को केन्‍द्रीय मंत्री मनोज सिन्‍हा, प्रदेश सरकार के राज्‍यमंत्री अनिल राजभर व मऊ सांसद हरिनारायण राजभर ने स्‍मृति चिह्न देकर सम्‍मानित किया। कार्यक्रम के शुभारंभ में केन्‍द्रीय मंत्री मनोज सिन्‍हा ने पीएम मोदी, राज्‍यपाल रामनाईक, मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ को अंगवस्‍त्रम देकर सम्‍मानित किया। कार्यक्रम में उत्‍तर प्रदेश के राज्‍यपाल रामनाईक, भाजपा प्रदेश अध्‍यक्ष डा. महेन्‍द्र नाथ पांडेय, मंत्री दारा सिंह चौहान, बृजेश पाठक, आशुतोष टंडन, उपेन्‍द्र तिवारी, मऊ सांसद हरिनारायण राजभर, बलिया सांसद भरत सिंह, एमएलसी विशाल सिंह चंचल, मुहम्‍मदाबाद विधायक अलका राय, जमानियां विधायक सुनीता सिंह, सदर विधायक डा. संगीता बलवंत, नपा अध्‍यक्ष सरिता अग्रवाल, काशी क्षेत्र के उपाध्‍यक्ष कृष्‍णबिहारी राय, जिलाध्‍यक्ष भानुप्रताप सिंह आदि लोग उपस्थित थे। वहीं कार्यक्रम में वरिष्‍ठ नेताओं सहित तमाम कार्यकर्ता मौजूद रहे। कार्यक्रम के दौरान पूरा आरटीआई मैदान लोगों से खचाखच भरा नजर आया। 

रिपोर्टर -विकास राय

No comments